भारतीय तटरक्षक बल ने SAREX 22 अभ्यास का आयोजन किया

भारतीय तटरक्षक बल (Indian Coast Guard) ने हाल ही में चेन्नई तट से अपने द्विवार्षिक राष्ट्रीय समुद्री खोज और बचाव अभ्यास SAREX 22 का आयोजन किया। इस अभ्यास में कई देशों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

मुख्य बिंदु

  • इस अभ्यास का उद्देश्य समुद्र में दुर्घटनाओं से बचना और बचाव अभियान चलाकर लोगों की जान बचाना है। इस दौरान ‘समुद्री सुरक्षा की ओर क्षमता निर्माण’ विषय के तहत आयोजित अभ्यास में 16 देशों के 24 पर्यवेक्षकों ने भाग लिया।
  • तटरक्षक बल द्वारा आयोजित यह 10वां अभ्यास था। इस अभ्यास के दौरान, बंगाल की खाड़ी के ऊपर रिमोट नियंत्रित लाइफबॉय जैसी नई तकनीक का प्रदर्शन किया गया।

भारतीय तटरक्षक बल (Indian Coast Guard)

ICG एक समुद्री कानून प्रवर्तन, खोज और बचाव एजेंसी है, जो भारत के रक्षा मंत्रालय के तहत काम करती है। इसका अधिकार क्षेत्र भारत के क्षेत्रीय जल क्षेत्र पर है, जिसमें सन्निहित क्षेत्र और विशेष आर्थिक क्षेत्र शामिल हैं। इस एजेंसी की स्थापना 1 फरवरी, 1977 को तटरक्षक अधिनियम, 1978 के तहत की गई थी।

भारतीय तटरक्षक बल के मिशन निम्नलिखित हैं-

  1. कृत्रिम द्वीपों की रक्षा के लिए
  2. समुद्री पारिस्थितिकी और पर्यावरण की रक्षा के लिए
  3. मछुआरों और नौसैनिकों की आसानी से रक्षा करने के लिए

भारतीय तटरक्षक बल की जिम्मेदारियां अपतटीय सुरक्षा समन्वय, राष्ट्रीय समुद्री खोज और बचाव, तटीय सुरक्षा हैं।

Sharing Is Caring:

An aspiring BCA student formed an obsession with Blogging, SEO, Digital Marketing, and Helping Beginners To Build Amazing WordPress Websites.

Leave a Comment