हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 2-3 अक्टूबर, 2022

1. ‘स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2022’ में किस शहर ने पहला स्थान हासिल किया है?

उत्तर – इंदौर

‘स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2022’ में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले राज्यों की श्रेणी में इंदौर को लगातार छठी बार सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया गया। इसके बाद सूरत और नवी मुंबई का नंबर आता है। राज्य श्रेणी में, मध्य प्रदेश ने पहला स्थान हासिल किया, उसके बाद छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र का स्थान रहा।

2. तीसरी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन, जिसका हाल ही में उद्घाटन (अक्टूबर 2022 में) किया गया, किन शहरों के बीच चलती है?

उत्तर – मुंबई और अहमदाबाद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधीनगर-मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का उद्घाटन किया, जो वंदे भारत श्रृंखला में तीसरी ट्रेन है। दो अन्य वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनें फरवरी और अक्टूबर 2019 के महीनों में शुरू की गईं, जो क्रमशः नई दिल्ली से वाराणसी और कटरा के लिए चलती हैं।

3. मूल भुगतान कार्ड विवरण को वैकल्पिक कोड से बदलने की प्रक्रिया को क्या कहा जाता है?

उत्तर – टोकनाइजेशन

टोकनाइजेशन मूल कार्ड विवरण को एक वैकल्पिक कोड के साथ बदलने की प्रक्रिया है जिसे ‘टोकन’ कहा जाता है। टोकन अद्वितीय होगा और यह ग्राहक कार्ड विवरण के लिए अतिरिक्त सुरक्षा प्रदान करता है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 2019 में कार्ड नेटवर्क को कार्ड लेनदेन को टोकनाइज करने की अनुमति दी थी। कार्ड-आधारित भुगतानों के टोकनकरण के सफल निष्पादन की समय सीमा 1 अक्टूबर थी।

4. ‘Universal Service Obligation Fund  (USOF)’ किस केंद्रीय मंत्रालय से जुड़ा है?

उत्तर – संचार मंत्रालय

दूरसंचार विभाग, (संचार मंत्रालय) के तहत एक निकाय, यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड (USOF) ने आधिकारिक तौर पर दूरसंचार प्रौद्योगिकी विकास कोष (TTDF) योजना शुरू की। इस योजना का उद्देश्य इस क्षेत्र में स्वदेशी विनिर्माण और नवाचार को बढ़ावा देना है। TTDF का उद्देश्य ग्रामीण-विशिष्ट संचार प्रौद्योगिकी अनुप्रयोगों में अनुसंधान और विकास को फंड्स देना है।

5. UGC के दिशानिर्देशों के अनुसार, उच्च शिक्षण संस्थानों में विदेशी छात्रों के लिए सीटों की प्रतिशत सीमा कितनी है?

उत्तर – 25

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के दिशानिर्देशों के अनुसार, उच्च शिक्षण संस्थान अब विदेशी छात्रों के लिए 25 प्रतिशत तक सीटें सृजित कर सकते हैं। पारदर्शी प्रवेश प्रक्रिया को अपनाते हुए विश्वविद्यालय विदेशी छात्रों के लिए अपनी प्रवेश नीति चुनने के लिए स्वतंत्र होंगे।

Leave a Comment